Thursday, October 18, 2012

Jai Ho Dodi Taal Ki

खच्चर घोड़ा पालकी
जय हो डोडी ताल की
धरवाधार के लाल की
जय बाबा भोकाल की

                                              Maggie के जब दाँव चले 
                                              और पर्वत पर पाँव चले 
                                              तन के गम को Rum ने साधा 
                                              बोतल ने किया दर्द आधा 

                                              फिर बात छिड़ी बवाल की 
                                              और शंकर जी भोकाल की 
                                              खच्चर घोड़ा पालकी 
                                              जय हो डोडी ताल की 

Pizza जब सर्गुन से छूटा
संगम चट्टी पर पुल टूटा
तब मुर्गों ने हि साथ दिया
कोरे खाने को स्वाद दिया

फिर चर्चा GD के चाल की
और झा One के धुएँ के  जाल की
खच्चर घोड़ा पालकी
जय हो डोडी ताल की

                                            सम्राट का टूटा मायाजाल
                                            साम्राज्ञी क जब पूछा हाल
                                            महिलाओं के तब दिल कुचले
                                            यमुना जी तब कूदे उछले

                                            फिर महक उठी कुछ 'माल' की
                                            और गप्पें ठाकुर के चाल की
                                            खच्चर घोड़ा पालकी
                                            जय हो डोडी ताल की

उन्नी के गाने जब फूटे
यशु के Scales कहीं छूटे
यमुना जी फिर जम के नाचे
और K K ने दोहे बाँचे

तब सभा लगी भोकाल की
और जयकार हुई घरपाल की
खच्चर घोड़ा पालकी
जय हो डोडी ताल की


1 comment:

Narendra Gupta said...

Good One ChandraMohan! :)